स्वास्थ्यMain Slideअध्यात्मजीवनशैली

नवरात्रि उपवास के दौरान रखें इन जरूरी बातों का ध्यान, नहीं तो होंगें ये नुकसान

माँ दुर्गा के नवरात्र चल रहें हैं और कई लोग नवरात्रि के पहले और आखिरी दिन उपवास रखतें हैं तो वहीँ कुछ लोग पूरे नौ दिन उपवास रखतें हैं। उपवास रखने के दौरान खान पान का विशेष ध्यान रखना पड़ता है। इस समय गरिष्‍ठ भोजन से बचना चाहिए।

उपवास रखना स्वस्थ है लेकिन व्रत रखने के समय कुछ चीजों का ध्यान रखना बहुत जरूरी हो जाता है और साथ ही अधिक ज्यादा खाने से भी बचना बेहद जरूरी हो जाता है।

देखें नवरात्रि पर हमारी विशेष रिपोर्ट – 

जल का स्तर हमेशा बनाए रखना

उपवास के समय स्वयं को हाइड्रेट रखना चाहिए। इससे शरीर में पानी की मात्रा में कमी नहीं होती। शरीर के सभी कार्य को सही ढंग से चलने के लिए हाइड्रेट रखना जरूरी है, क्‍योंकि व्रत के समय शरीर में पानी की कमी होने लगती है, इस लिए जल का स्तर हमेशा बनाए रखना बहुत जरूरी है। खुद को हाइड्रेट रखने के लिए नारियल के पानी, दूध और ताजे फलों के रस का सेवन करना चाहिए।

स्‍वादिष्‍ट चीजों का सेवन ज्यादा नहीं

उपवास के समय स्‍वादिष्‍ट चीजों का सेवन ज्यादा नहीं करना चाहिए। अगर आप खाने की आदतों पर कण्ट्रोल नही रख सकतें हैं, तो यह न केवल व्रत के उद्देश्य से दूर होगा बल्कि आपके पाचन तंत्र पर भी इसका काफी प्रभाव पड़ेगा। अपने आहार में ताजा फल और सब्जियों का ही सेवन करें। चिकना, तैलीय भोजन का प्रयोग न करें।

घर पर बनी मिठाई का प्रयोग

बाजार में मिलने वाली बहुत सारी मिठाइयां प्रोसेस्ड शुगर से बनती हैं जो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होती हैं। इसकी जगह , आपको घर पर बनी मिठाई खानी चाहिए और चीनी की जगह गुड़ का सेवन करें।

कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कंट्रोल

उपवास के दौरान आपको किसी भी समय पर भूख लग सकती है। ऐसे में चिप्स की जगह मखाना जैसे हेल्दी स्नैक्स का इस्तेमाल ज्यादा अच्छा रहेगा। फॉक्सनट्स में विटामिन और आयरन की अधिक मात्रा पाई जाती है, आपको इसका सेवन करना चाहिए। शकरकंद फ्राई करके, रोस्ट नट्स जैसे कुछ भी बना सकते हैं जो आपके कोलेस्ट्रॉल लेवल को बढ़ने नहीं देगा।

फाइबर की मात्रा ज्यादा वाले पदार्थ

नवरात्रों के वक्त जब आपके पास खाने का समय होता है, तो यह जरूरी है कि आप ऐसे खाद्य पदार्थों को चुनें जिसमें फाइबर की मात्रा ज्यादा हों और पचने में ज्यादा समय लेते हों जिससे आपको लम्बे समय पूर्ण रहने में मदद करते हैं। व्रत के अनुकूल आहार- राजगीर, सिंघारा, कद्दू, और कोलोसैसिया शामिल हैं।

व्रत के अनुकूल बहुत सारी चीजें

बाजार में व्रत के अनुकूल बहुत सारी चीजें आसनी से मिल जाती है नमकीन, चिप्स और भोजन। पर ये ध्यान रखें वे सारे प्रोसेस्‍ड होने के बाद आते हैं और रिफाइंड ऑयल में बनते हैं। यह इन नौ पवित्र दिनों में उपवास के दौरान नहीं खाने चाहिए।

उपवास में बॉडी डिटॉक्स

किसी भी तरह के उपवास में बॉडी डिटॉक्स होती रहती है, जिसकी वजह से आराम की बहुत जरूरत पड़ती है। इसलिए आप हर दिन 7-8 घंटे सोते हैं। आराम करने की कोशिश करें और अपने शरीर को पूरी तरह से डिटॉक्सीफाई करने के लिए मेडिटेशन भी किया जा सकता हैं।

शरीर पर ज्यादा दबाव न डालें

इन नौ दिनों के उपवास के दौरान, आप खानपान, कार्यक्रमों में भाग लेने और उपवास के साथ पूर्ण रहने की कोशिश करते हैं। ध्यान दें कि शरीर में ऊर्जा कम होती है, इसलिए कोशिश करें कि आपके शरीर पर ज्यादा दबाव न डालें। समय-समय पर नाश्ता करते रहें और आराम करें।

#Navratri #Navratri2020 #Durga #hindugods 

 

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close
Close