व्यापारMain Slide

शॉपिंग करना हुआ और भी सस्ता, यहां मिल रहा बम्पर डिस्काउंट

नए रेट 20 अक्टूबर 2019 से लागू हो जाएगें। एनपीसीआई के यहां जारी की गयी विज्ञप्ति के मुताबिक डेबिट कार्ड के लेनदेन पर दिया गया ये डिस्काउंट सभी तरह के पाइंट आफ सेल (पीओएस) पर लागू होगा।

नेशनल पेमेंट्स कार्पोरेशन आफ इंडिया ने कहा कि उसने रुपे डेबिट कार्ड से लेनदेन करने पर मर्चेंट डिस्काउंट रेट को घटा दिया है। इसके अलावा ईकॉम और भारतक्यूआर कोड आधारित मर्चेंट लेनदेन पर भी नई दरें लागु की जाएंगी।

एमडीआर को संशोधित कर दिया गया 0.60 प्रतिशत

  • इसमें बताया गया है कि 2,000 रुपए से ज्यादा के लेनदेन पर एमडीआर को संशोधित कर 0.60 प्रतिशत कर दिया गया है।
  • इसमें प्रति लेनदेन ज्यादातर 150 रुपए लिया जाएगा।
  • वर्तमान में 2,000 रुपए से ज्यादा के लेनदेन पर 0.90 प्रतिशत का एमडीआर लिया जाता है।
  • इसमें अधिकतम सीमा प्रति लेनदेन 1,000 रुपए तय की गई थी।

क्यूआर लेनदेन पर एमडीआर को भी किया गया कम करके 0.50 प्रतिशत

भारत क्यूआर जिसका मतलब है कार्ड आधारित क्यूआर लेनदेन पर एमडीआर को भी कम कर 0.50 प्रतिशत कर दिया गया है और अधिकतम एमडीआर 150 रुपए प्रति एमडीआर होगा। एनपीसीआई के प्रबंध निदेशक और सीईओ दिलीप असबे ने कहा कि एमडीआर रेट को कम करने और अधिकतम सीमा को कम करने से अब कारोबारी डेबिट कार्ड से लेनदेन करने को बढाने की कोशिश करेंगे। अब तक ऊंची दर की वजह से वह इसके द्वारा लेनदेन से मना करते रहे हैं।

रिपोर्ट – श्वेता वर्मा 

ये वीडियो भी देखें –

 

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close
Close