Main Slideरोचक खबरेंस्वास्थ्य

OMG! Safe Sex में कुंवारी महिलाएं आगे, कंडोम यूज करने में शादीशुदा मर्दों को पछाड़ा

भारत में पिछले कुछ सालों में अविवाहित महिलाएं सेक्‍सुअल रिलेशन में ज्‍यादा एक्टिव हो गई हैं। ये पढ़ी–लिखी हैं सो कंडोम के बारे में भी जानती ही हैं। यही वजह है कि सुरक्षित सेक्‍स के लिए ऐसी अविवाहित महिलाएं कंडोम का इस्‍तेमाल विवाहित पुरुषों से भी ज्‍यादा करती हैं।

ऐसा हम नहीं, स्वास्थ्य मंत्रालय के नेशनल फेमिली हेल्थ सर्वे (2015-16) के आंकड़े बताते हैं कि पिछले एक दशक में बिना शादी के महिलाओं के सेक्स के दौरान कंडोम यूज करने के मामले 6 गुना बढ़े हैं। यहीं नहीं इस सर्वे में ऐसी कई बातें सामने आई हैं, जो बताती है कि महिलाएं सेक्‍सुअल रिलेशन के साथ ही सुरक्षित सेक्‍स के प्रति भी खासी जागरूक हैं।

सर्वे बताता है कि 10 साल में ऐसी महिलाओं में कंडोम इस्‍तेमाल करने का आंकड़ा दो फीसदी से बढ़कर 12 फीसदी हो चुका है। 15 से 49 साल की अविवाहित महिलाओं के बीच सर्वे से ये बात सामने आ गई है। 34 प्रतिशत अविवाहित महिला सेफ सेक्‍स के लिए कंडोम का इस्‍तेमाल करना पसंद करती हैं। हालांकि, सबसे अधिक कंडोम का यूज 20 से 24 साल की महिलाओं के बीच ही हुआ है।

क्‍या है पुरुषों का तर्क

सर्वे में 61 प्रतिशत पुरुष कंडोम को भरोसेदार मानते है और पुरुषों को तर्क है कि यौन संचारित रोगों से बचाव के साथ कंडोम से अनचाही प्रेग्नेंसी से सुरक्षा दिलाता है। सर्वे के मुताबिक 8 में से 3 पुरुष मानते हैं कि गर्भ की परवाह करना महिलाओं का काम है, इसलिए पुरुषों को इसकी चिंता नहीं करनी चाहिए।

99 फीसदी शादीशुदा पुरुष और औरत कम से कम एक गर्भनिरोधक मेथड के बारे में जानते हैं। शादीशुदा महिलाओं में कॉन्ट्रासेप्टिव यूज करने का आंकड़ा 54 फीसदी ही है। 15 से 49 साल की शादीशुदा महिलाओं में सिर्फ 10 फीसदी ही मॉडर्न गर्भनिरोधक विधि का इस्तेमाल करते हैं।

अविवाहित महिलाएं मॉडर्न कॉन्ट्रासेप्टिव ज्‍यादा यूज करती है। वहीं, 25 से 49 साल की महिलाओं में नसबंदी के जरिए प्रेग्नेंसी रोकने के उपाय करने के आंकड़े अधिक हैं। सर्वे में इमरजेंसी कॉन्ट्रासेप्टिव पिल्स का इस्तेमाल करने वाली महिलाओं की संख्या एक फीसदी से भी कम है।

मणिपुर, बिहार और मेघालय में सबसे कम (24 फीसदी) और पंजाब में सबसे अधिक 76 फीसदी कॉन्ट्रासेप्टिव यूज किए जाते हैं।

सर्वे बताता है कि 65 फीसदी सिख और बौद्ध महिलाओं ने मॉडर्न कॉन्ट्रासेप्टिव का यूज किया। वहीं, मुस्लिम महिलाओं में ये आंकड़ा सिर्फ 38 फीसदी का रहा। गर्भनिरोधकों का इस्तेमाल ज्‍यादातर धनी तबके के लोग करते हैं। गरीब तबके की 36 प्रतिशत, वहीं संपन्न परिवार की 53 प्रतिशत महिलाएं कॉन्ट्रसेप्टिव यूज करती हैं।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close