रोचक खबरेंMain Slideअध्यात्मउत्तराखंडप्रदेश

सावन विशेष : इस मंदिर में एक दानव के साथ होती है भगवान शिव की पूजा

देवभूमि उत्तराखंड जहां देवी देवताओं का वास हैं यहां कण-कण में देव विराजते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं उत्तराखंड की देवभूमि में एक प्राचीन मंदिर में देवताओं के साथ साथ असुर की भी पूजा होती है जी हां पौड़ी गढ़वाल के पैठाणी राठ क्षेत्र में एकमात्र शंकराचार्य के द्वारा स्थापित राहु मंदिर स्थित है यह एकमात्र ऐसा मंदिर है जहां राहु और शिव एक साथ वास करते हैं स्कंद पुराण के केदारखंड में इस मंदिर का वर्णन भी है कहा जाता है।

महाभारत के बाद जब पांडव स्वर्गारोहिणी की ओर जा रहे थे तो उन पर राहु दोष लग गया था जिसके बाद पांडवों के द्वारा राहु दोष से मुक्ति पाने के लिए राहु की पूजा की गई थी यह उत्तर भारत का एकमात्र राहु मंदिर है जिसका निर्माण आदि गुरु शंकराचार्य के द्वारा किया गया था जिस शैली मैं केदारनाथ मंदिर बनाया गया है उसी शैली में यह राहु मंदिर भी बनाया गया है ऐसी मान्यता है कि यहां शिव के दर्शन करने से राहु दोष से मुक्ति मिल जाती है सावन के महीनों में बैल दान करने से यहां सभी कष्टों से मुक्ति मिल जाती है।

#Sawan #Sawan2020 #Rahutemple #Paithani #Uttarakhand #rahuketu

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close
Close