अध्यात्मरोचक खबरें

महाअष्टमी पूजा में इस मंत्र को नौ बार पढ़िए, खत्म हो जाएगी सारी परेशानी

नवरात्र में महाअष्टमी पूजा करने से आर्थिक कष्ट दूर होते हैं और दुख-दरिद्रता मिट जाती है। माँ को खुश करने के लिए कई लोग इस दिन उपवास भी रखते हैं।

महाअष्टमी के दिन गौरी पूजन के साथ-साथ कन्या पूजन का बहुत अधिक महत्व है।  कोरोना वायरस के कारण देश में लॉकडाउन किया हुआ है। इसलिए घर में मौजूद ही कन्या का पूजन करें।

हैंड सैनिटाइजर ऐसे करता है कीटाणुओं का सफाया, ज्यादा यूज भी खतरनाक

महागौरी का वस्त्र सफेद है। इनके आभूषण भी इसी रंग के हैं। इसी वजह से महागौरी को श्वेताम्बरधरा भी कहा जाता है। इनकी चार भुजा है। मां का वाहन वृषभ है और महागौरी सिंह की सवारी भी करती हैं।

मंत्र

सर्व मंगलाय मांगल्ये, शिवे सर्वार्थ साधिके
शरण्‍ये त्र्यम्बके गौरी नारायणी नमोस्तुते
महागौरी: श्री क्लीं ह्रीं वरदायै नम:।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close
Close