व्यापाररोचक खबरें

SBI Gold Deposit Scheme में सोना जमा कर आप कर सकते हैं मोटी कमाई

यदि आपके पास सोने के सिक्‍के या सोने की ज्‍वेलरी है तो इससे आप अच्छी  कमाई कर सकते है। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) की एक खास स्कीम है। जिसमे आप सोना रखकर ब्याज पा सकते हो। यह स्कीम है SBI गोल्ड डिपाजिट स्‍कीम (R-GDS)। इस स्कीम में आप सोना जमा करते हो तो आपको ब्याज के साथ-साथ मुनाफा मिलता है।

SBI द्वारा ज्‍वेलरी या सोने की शुद्धता के आधार पर सोने का जमा प्रमाण पत्र दिया जाता है। जमा की अवधि खत्‍म होने पर 3, 4, 5 या 6 वर्ष बाद उस सोने को या तो सोने के रुप में या फिर नकद के रुप में ब्‍याज सहित उस वक्त की कीमत के आधार पर लिया जा सकता है।

आइये जानते हैं इस स्कीम की विस्तृत जानकारी

  • STBD स्कीम में एक वर्ष के लिए 0.50  प्रतिशत का ब्याज दिया जाएगा। दो वर्ष के लिए 0.55 प्रतिशत और तीन वर्ष के लिए 0.60 प्रतिशत ब्याज दिया जाएगा।
  • लॉन्ग टर्म यानी 5-7 वर्ष के लिए 2.25 प्रतिशत वार्षिक ब्याज दिया जाएगा। 12-15 वर्ष के लिए 2-5 प्रतिशत वार्षिक ब्याज दिया जाएगा।
  • अगर आप एक वर्ष के निर्धारित समय से पहले पैसा निकालते हैं तो ब्याज दर पर पैनल्टी लगायी जाएगी। मीडियम टर्म वाली अवधि में निवेशक 3 वर्ष के बाद स्कीम से बाहर हो सकते हैं।
  • लॉन्ग टर्म वाली स्कीम से 5 वर्ष के बाद ही बाहर निकला जा सकता हैं। अगर इन अवधी के बीच में पैसा निकलतें हैं तो पैनल्टी लगायी जाएगी।
  • SBI की दिल्ली में पीबी ब्रांच से, SME ब्रांच चांदनी चौक ब्रांच से, कोयम्बटूर ब्रांच, हैदराबाद की मेन ब्रांच द्वारा, मुंबई की बुलियन ब्रांच में इस स्कीम का लाभ ले सकते हैं।
  • SBI की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के हिसाब से, भारत में रहने वाला कोई भी व्यक्ति इस स्कीम का लाभ उठा सकता है। सिंगल, जाइंट अकाउंट भी खुलवा सकते हैं।
  • एचयूएफ, पार्टरशिप फर्म भी इस स्कीम में निवेश कर सकती हैं।
  • इस स्कीम में 30 ग्राम सोना जमा करना अनिवार्य है, अधिक की कोई लिमिट नहीं है।
  • इस स्कीम में 1-3 साल के लिए सोना जमा किया जाता है। SBI में इस स्कीम का नाम शॉर्ट टर्म बैंक डिपॉजिट (STBD) रखा हैं।
  • मीडियम और लॉन्ग टर्म के लिए जमा अवधि 5-7 और 12-15 वर्ष रखी गयी है।

जानिए इस स्कीम से क्या फायदा आपको मिल सकता है

  • SBI की किसी भी शाखा से गोल्‍ड के मौलिक दाम के 75 फीसदी तक रुपए के लोन का फायदा उठा सकते हैं। एसबीआई की गोल्‍ड डिपॉजिट स्‍कीम से लोन में भी लाभ मिलेगा।
  • आपको अपने सोने और आभूषणों को स्टोर करने के लिए लॉकर की लागतों के बारे में चोरी की कोई चिंता करने की जरूरत नहीं है। जारी किए गए सभी प्रमाण पत्र अत्यंत सुरक्षित होते हैं।
  • लॉकर में रखे सोने से आपको कोई फायदा नहीं मिलता है। वहीं निष्क्रिय सोना जो बहुत दिनों से घर पर पड़ा हुआ है उस पर आपको ब्‍याज भी दिया जाएगा।
  • एसबीआई गोल्ड डिपॉजिट स्कीम में ब्याज, गोल्ड मुद्रा में गणना की जाती है और रुपए के बराबर में भुगतान किया जाता है।
  • यदि आपके पास कमाई से अधिक सोना है तो आपको इसके लिए संपत्ति कर के अंतर्गत टैक्‍स भरना पड़ेगा।
  • SBI गोल्ड डिपॉज़िट योजनाओं पर कोई संपत्ति कर, पूंजीगत लाभ कर या आयकर देय नहीं है। जिससे कि आपको टैक्‍स में छूट मिल सकती है।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close
Close