व्यापारMain Slideरोचक खबरें

SBI की इस EMI सुविधा से आप कर सकेंगें ढेर सारी शॉपिंग

त्योहारों का सीजन शुरू हो चुका है। इस त्योहारी सीजन को देखते हुए भारत के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया(SBI) ने डेबिट कार्ड ईएमआई सर्विस का उद्घाटन कर दिया है। त्योहारों के सीजन को देखते हुइ कई कंपनियां अपने ग्राहकों को तरह तरह के ऑफर्स और भारी डिस्काउंट दे रही है।

अगर आप भी स्टेट बैंक ऑफ इंडिया(SBI) के ग्राहक हैं और आप पास SBI का डेबिट कार्ड रखतें हैं तो आप जितनी शॉपिंग करना चाहतें हैं कर सकते हैं और बाद में इसकी किश्त (ईएमआई) के माध्यम से भुगतान कर सकते हैं।

ये खबर अभी देखें – 

1500 से भी ज्यादा शहरों में शुरू कर दी गई है ये सुविधा

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया(SBI) की इस सर्विस में ग्राहक  न्यूनतम 6 महीने से 18 महीने तक ईएमआई की अवधि का आप्शन चुन सकते हैं। आपको बता दें कि ये सेवा 1500 से भी ज्यादा शहरों में शुरू कर दी गई है। कई कंपनियां अपने ग्राहकों को किश्तों में शॉपिंग करने की सुविधाएँ दे रही हैं। SBI ने भी इसी को देखते हुए इस सर्विस का शुभारम्भ किया है।

POS machines से करना होगा भुगतान

सभी ये जानतें हैं कि अबतक क्रेडिट कार्ड के माध्यम से ही किश्तों में पेमेंट करने की सुविधा दी जाती है। एसबीआई के हिसाब से ग्राहकों को पीओएस मशीन (POS machines) से भुगतान करना होगा। इस सुविधा के तहत आप 40,000 रुपये तक की शॉपिंग कर सकते हैं। इसके साथ ही कार्ड होल्डर्स को कंज्यूमर ड्यूरेबल गुड्स के लिए लोन लेने की भी सुविधा दी जा रही है। जिसमें आप डेबिट कार्ड द्वारा ईएमआई पर फ्रिज , वॉशिंग मशीन और एसी जैसे कई घरेलू सामान की खरीददारी कर सकते हैं।

ग्राहकों को नहीं जाना पड़ेगा ब्रांच

बैंक द्वारा ये बताया गया है कि इस सर्विस के लिए किसी तरह का प्रोसेसिंस शुल्क नहीं लिया जाएगा और न ही किसी किसी प्रकार के डॉक्यूमेंटेशन की आवश्यकता होगी। SBI की ओर से ये भी कहा गया है कि इस सर्विस का लाभ उठाने के लिए ग्राहकों को ब्रांच भी नहीं जाना पड़ेगा ।

जिनका क्रेडिट प्रोफाइल होगा बेहतर

इसके साथ ही इस सर्विस में खास बात ये है कि इस सेवा का फायदा उनको मिलेगा जिनका क्रेडिट प्रोफाइल बेहतर होगा। ग्राहक एसएमएस भेजकर अपनी योग्यता की जांच कर सकते हैं। इसके लिए ग्राहकों को अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से ब्लॉक लेटर्स में DCEMI लिखकर 567676 पर भेजना होगा।

रिपोर्ट – श्वेता वर्मा 

 

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close
Close