Main Slideउत्तराखंड

राजस्थान में पुलिस ने ट्रक ड्राइवर का काटा 1.41 लाख रुपये का चालान

जयपुर। केंद्र सरकार द्वारा नए ट्रैफिक नियम लागू करने के बाद से ही भारी भरकम चालान के एक के बाद एक कई मामले सामने आ रहे हैं। ऐसा ही एक मामला राजस्थान से सामने आया है। यहां एक ट्रक मालिक को ओवर लोडिंग की वजह से 1.41 लाख रुपये का चालान भरना पड़ा। हालांकि यह चालान पुलिस ने नहीं बल्कि स्टेट ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी ने काटा है। ट्रक मालिक की पहचान भगवान राम के तौर पर की गई है।

ट्रैफिक पुलिस ने चेकिंग के लिए कार पर मारा डंडा, युवक की हार्ट अटैक से मौत

मोटर वाहन (संशोधन) बिल-2019 के नियमों के लागू होने के बाद बड़ी राशि के जुर्माने के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। इसको लेकर कई जगह से विरोध के स्वर भी उठे रहे हैं। इस बीच नोएडा से एक ऐसा मामला सामने आया है जिसने सभी को हैरान कर दिया है। यहां कार की चेकिंग के दौरान एक युवक की हार्ट अटैक से मौत हो गई।

मूलचंद शर्मा रविवार शाम को अपने भांजे से मिलने के लिए अपने बेटे गौरव के साथ कार में इंदिरापुरम जा रहे थे। मूलचंद ने बताया कि कार गौरव कार चला रहा था, जबकि वे उसके साथ अगली सीट पर बैठे थे। वहीं उनकी पत्नी पीछे वाली सीट पर थी। शाम करीब 6 बजे मॉडल टाउन अंडरपास पार करके एनएच- 9 पर चढने के बाद इंदिरापुरम साइड में खड़े एक ट्रैफिक पुलिस ने उन्हें रुकने का इशारा करते हुए गाड़ी के बोनट पर डंडे मारने शुरू कर दिए। उन्होंने गौरव से कहकर गाड़ी साइड लगवाई और ट्रैफिककर्मी के व्यवहार पर नाराजगी जताई। लेकिन उसने चालान और गाड़ी सीज करने की धमकी देते हुए फोटो खींचना शुरू कर दिया। उसी वक्त गौरव को चक्कर आया और वह गिरकर बेहोश हो गया।

इसके बाद वहां मौजूद लोगों की मदद से उसे अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। गौरव की हालत देखकर माता-पिता सकते में आ गए। परिजनों का कहना है कि पुलिसकर्मी मदद करने के बजाय वहां से चुपचाप चले गए। आसपास के लोग मदद के लिए पहुंचे और गौरव को पहले फोर्टिस और फिर कैलाश अस्पताल पहुंचाया गया। डॉक्टरों ने बताया कि गौरव की मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई है। अस्पताल प्रबंधन का कहना था कि गौरव को जब अस्पताल में लाया गया, तब उनकी मौत हो चुकी थी

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close