स्वास्थ्यMain Slideजीवनशैलीप्रदेशमनोरंजन

उत्तराखंड में सितंबर बन जाएगा पोषण माह, जड़ से खत्म होगा कुपोषण

अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने कुपोषण को समाप्त करने के लिए प्रदेश में संचालित पोषण अभियान को सफल बनाने के लिए सचिवालय स्थित मुख्य सचिव सभाकक्ष में आयोजित बैठक में सभी सम्बन्धित विभागों को समन्वय से कार्य करने को कहा है।

कुपोषण

उन्होंने कहा कि सितम्बर माह को पोषण माह के रूप में मनाया जा रहा है। अतः इसके लिए भी अभियान से जुड़े सभी विभाग समन्वय से कार्य करें, ताकि इस अभियान को सफल बनाया जा सके। उन्होंने इसके लिए शहरों की मलिन बस्तियों में विशेष रूप से सघनता से कार्य करने को कहा। उन्होंने कहा कि समेकित प्रयासो से ही इस समस्या का समाधान हो सकेगा। हमारा प्रयास होना चाहिए कि उत्तराखण्ड इस अभियान में देश में अग्रणी रहे।

उन्होंने कहा कि पोषण माह के दौरान निर्धारित 5 सूत्रीय कार्यक्रम के तहत एक हजार दिनों का कार्यक्रम तय किया गया है, जिसमें एनीमिया, डायरिया, हैण्डवास एवं स्वच्छता व पौष्टिक आहार के विषय में विस्तृत रूप से समन्वय से इसका कार्यान्वयन सुनिश्चित किया जाए।

 

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close