अध्यात्मMain Slideउत्तराखंडजीवनशैलीप्रदेश

शिव का ऐसा मंदिर जहां मांगने पर मिलता है सब कुछ, VIDEO में करें दर्शन

उत्तराखंड जहाँ देवी- देवताओं का वास माना गया है, यही कारण है की यहां के लोगों की देवी- देवताओं के प्रति गहरी आस्था व् अटूट श्रद्धा है।

प्रकृति की गोद में बसा जौनसार जहा महासू देवता का’ एक प्रचीन शिद्ध मंदिर है ,माना जाता है कि जो भी यहां सच्चे दिल से कुछ मांगता है महासू देवता उसकी मुराद अवश्य पूरी करते हैं। उत्तराखंड से ही नहीं बल्कि हिमाचल प्रदेश से भी लोगों में महासू देवता के प्रति अटूट आस्था देखने को मिलती है। दिलचस्प है कि यहां हर साल दिल्ली राष्ट्रपति भवन की ओर से नमक भेंट किए जाने की परम्परा का निर्वहन किया जाता है ।

महासू देवता असल में 4 देवताओं का सामूहिक नाम है, भगवान शिव के रूप में यहां चार भाईयों की पूजा की जाती है। चारों महासू भाइयों के नाम “बासिक महासू”, “पबासि महासू”, “बौठा महासू” और “चालदा महासू” है, जो सभी बाबा भोलेनाथ के ही रूप हैं।

मंदिर

हिमाचल प्रदेश के ग्राम सराजी में चालदा महासू महाराज जिनको छत्तरधारी भी कहा जाता है, उनके नव निर्मित मूर्ति की प्राणप्रतिष्ठा , स्थापना एवं महायज्ञ का कार्यक्रम चालदा महासू महाराज अपने भाइयों में से सबसे छोटे हैं व भ्रमण प्रीय देव हैं और इन्हें चलता राज प्राप्त है जो कि 12 साल पांशीबील व 12 साल शांठीबील में भ्रमण करते रहते हैं और जिन की मान्यता हिमाचल उत्तराखंड व जौनसार बावर के इलाकों में है और वर्तमान में महाराज कोटी कनासर (चकराता जौंनसार-बावर ) में विराजमान है सराजी में देश-विदेश से पूरे साल भर श्रद्धालुओं का तांता लगा रहता है ।

रिपोर्ट – प्रभा जोशी

 

 

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close