Main Slideराष्ट्रीय

अगर कोलकाता में CRPF नहीं होती तो मेरा जिंदा निकलना मुश्किल था: अमित शाह

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण के मतदान से पहले मंगलवार को कोलकाता में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने मेगा रोड शो हुआ, लेकिन अंत होते-होते इस पर बवाल हो गया। रोड शो में टीएमसी-बीजेपी समर्थक भिड़ गए, आगजनी भी हुई।

जहां एक ओर तृणमूल कांग्रेस ने तीन वीडियो जारी कर बीजेपी के कार्यकर्ता पर गुंडागर्दी का आरोप लगाया है वहीं बीजेपी टीएमसी को इस हिंसा के लिए जिम्मेदार बता रही है। इसी मुद्दे पर बुधवार को दिल्ली में अमित शाह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा। अमित शाह ने कहा, बंगाल में जो घटनाएं हुई हैं, उसी की हकीकत बताने आया हूं। देश में कहीं पर भी हिंसा नहीं हो रही है, लेकिन सिर्फ बंगाल में हो रही हैं।’

उन्होंने कहा, बीजीपी तो पूरे देश में चुनाव लड़ रही है लेकिन हिंसा सिर्फ बंगाल में हो रही है। शाह ने कहा कि टीएमसी के गुंडों ने ही उनकी बाइक और गाड़ियां जलाईं, अगर कल सीआरपीएफ नहीं होती तो उनका जिंदा निकलना मुश्किल था। अमित शाह ने कहा कि हिंसा की खबर सुबह से थी लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

साथ ही उन्होंने कहा कि टीएमसी के लोगों ने ही झूठ फैलाने के लिए मूर्ती तोड़ी। अमित शाह ने कहा कि छह चरणों में बंगाल के सिवा कहीं हिंसा नहीं हुई। ममता जी कह रही हैं कि बीजेपी हिंसा कर रही है। ममता जी 42 सीटों पर लड़ रही हैं, हम तो देश भर में चुनाव लड़ रहे हैं। कहीं और तो हिंसा नहीं हुई। यानि साफ है टीएमसी के लोग हिंसा कर रहे हैं।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close