तकनीकीMain Slide

आजतक एक मिनट भी लेट नहीं हुई ये भारतीय ट्रेन, जानिए वजह

वंदे भारत एक्सप्रेस जिसे Train-18 के नाम से भी जाना जाता है भारत की सबसे तेज चलने वाली ट्रेन है। ये दिल्ली से वाराणसी के बीच चलती है। इस दूरी को तय करने में ट्रेन को 8 घंटे का समय लगता है।

ट्रेन
वंदे भारत एक्सप्रेस।

यह ट्रेन वातानुकूलित और चेयर कार वाली है, जिसमें 16 कोच हैं और 1128 यात्रियों की इसकी क्षमता है। इनमें से दो एक्जीक्यूटिव क्लास जबकि 14 चेयर कार वाले कोच हैं। ट्रेन का पहला और अंतिम कोच दिव्यांगों के लिए है। संचालन से पहले ट्रेन के दरवाजे स्वत: बंद हो जाते हैं। पहले कोच से लेकर अंतिम कोच तक जाने के लिए ट्रेन के अंदर दरवाजे लगाए गए हैं।

ट्रेन के रुकने के समय कोच के अंदर से सीढ़ियां बाहर निकलती है। वंदे भारत में अधिक सीटों का इंतजाम समस्त इलेक्ट्रिक उपकरणों को कोच के नीचे स्थानांतरित किए जाने से संभव हुआ है।

ट्रेन की अन्य सुविधाओं में जीपीएस आधारित ऑडियो विजुअल पैसेंजर इंफारमेशन सिस्टम, ऑनबोर्ड हॉटस्पॉट वाई-फाई, बायोवैक्यूम टायलेट, डूअल मोड लाइटिंग तथा सभी सीटों में मोबाइल चार्जिंग सॉकेट शामिल हैं। चेयरकार की सीटों में भी हल्के पुशबैक की व्यवस्था है। शताब्दी की भांति प्रत्येक कोच में खाना गर्म रखने के लिए छोटी पेंट्री दी गई है। बाहरी शोर से बचाने के लिए ट्रेन को काफी हद तक साउंड प्रूफ बनाया गया है।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close