Main Slideराष्ट्रीय

महिला डॉक्टर को हो गया था आंबेडकर से प्यार, फिर एक दिन अचानक….

नई दिल्ली। भारतीय संविधान के निर्माता डॉक्टर भीमराव आंबेडकर का आज जन्मदिन है। इस खास मौके पर आज हम उनसे जुड़ी एक ऐसी बात बताने जा रहे हैं जो शायद ही किसी को पता होगी।

आपको जानकर हैरानी होगी कि अंबेडकर ने दो शादियां की थी। उनकी दूसरी शादी सविता से हुई थी। संभ्रात मराठी ब्राह्मण परिवार में जन्मी सविता पेशे से डॉक्टर थीं।

साल 1947 के आसपास बाबासाहेब डायबिटीज, ब्लड प्रेशर से काफी परेशान थे। बीमारी की वजह से उनके पैरों में दिक्कत काफी बढ़ गई थी। जिसके बाद मुंबई की डॉक्टर सविता ने उनका इलाज शुरू किया।

वह पुणे इलाज के दौरान वह डॉक्टर आंबेडकर के करीब आईं. दोनों की उम्र में अंतर था। 15 अप्रैल 1948 को आंबेडकर ने अपने दिल्ली स्थित आवास में उनसे शादी कर ली।

शादी के बाद दोनों को अपने-अपने वर्ग की नाराजगी झेलनी पड़ी। आंबेडकर के बेटे और नजदीकी रिश्तेदारों इस शादी के सख्त खिलाफ थे। रिश्तेदारों में यह खटास जिंदगी भर बनी रही।

लेकिन इन सब विवादों से दूर सविता माई (बाद में उन्हें माई ही कहा जाने लगा था) ने पूरी निष्ठा के साथ मरते दम तक आंबेडकर का ख्याल रखा. उनकी सेवा में जुटी रहीं।

 

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close