राष्ट्रीयMain Slideप्रदेशराजनीतिरोचक खबरें

इस वर्ष सबसे महंगा होगा चुनाव : प्रति वोटर चुनाव का खर्च जानकर नहीं करेेंगे यकीन

सत्रहवीं लोकसभा तक प्रति वोटर खर्च में नौ हज़ार फीसदी से ज्यादा बढ़ोतरी हुई है। पहले चुनाव में साठ पैसा प्रति वोटर खर्चा था,जो आज सत्रहवीं लोकसभा के समय 55 रुपए पर पहुंच गया है।

सत्रहवीं लोकसभा के समय 55 रुपए पर पहुंच गया है
2019 के लोकसभा में यह खर्चा 5 हज़ार करोड़ तक पहुंच सकता है। ( फोटो – गूगल )

सत्रहवीं लोकसभा के समय 55 रुपए पर पहुंच गया है

चुनावी बजट और वोटर्स की संख्या के आधार पर प्रति वोटर पर होने वाला खर्च लगातार बढ़ा है। वर्ष 1977 में प्रति वोटर खर्च जहां 71 पैसे था,वहीं 1980 यह डेढ़ रुपए प्रति वोटर पर पहुंच गया है।

सत्रहवें लोकसभा के लिए यानी 2019 के लोकसभा में यह खर्चा 5 हज़ार करोड़ तक पहुंच सकता है। यानी कि नब्बे करोड़ वोटर्स के हिसाब से देखा जाए, तो प्रति वोटर पर होने वाले खर्च में 9,067 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close